Test Examine

Short Motivetional Story in Hindi – सकारात्मक और नकारात्मक सोच का अंतर

Short Motivetional Story in Hindi – सकारात्मक और नकारात्मक सोच की ताकत

Positive and negative thoughts

दो भाई एक भाई नशेबाज पर दूसरा भाई एक सफल बिजनेसमैन एक मां-बाप एक जैसी परवरिश फिर भी दोनों के व्यवहार में जमीन आसमान का अंतर दोस्तों यह कहानी पढने के बाद आपको पता चलेगा कि जीवन में सफल होने के लिए एक सकारात्मक सोच का कितना महत्व है. तो इस कहानी को पूरा पढ़े दो भाइयों की कहानी है एक भाई नशेड़ी ड्रग एडिक्ट और शराबी था लोग उससे नफरत करते थे वह नशा करके अपने परिवार में लड़ाई झगड़ा करता था पर दूसरा भाई एक सफल बिजनेसमैन था लोग उसका सम्मान करते थे और उसका एक खुशहाल परिवार था सगे भाई होने के बावजूद दोनों भाइयों के व्यवहार में जमीन आसमान का अंतर था लोग हमेशा यह सोचते थे कि दोनों का बचपन एक जैसे बीता है लेकिन फिर भी उनके व्यवहार में इतना अंतर कैसे एक दिन एक इंसान ने नशेड़ी भाई से पूछा तुम ड्रग्स लेते हो तुम शराब पीते हो फिर घर जाकर अपने परिवार में लड़ाई झगड़ा भी करते हो तुम्हारे ऐसे होने का कारण क्या है उसने जवाब दिया मेरा बाप वह साला ड्रग्स लेता था फिर शराब पीकर मेरी मां और मुझे मरता था इतना बुरा बचपन होने के बाद तुम मुझसे क्या उम्मीद कर सकते हो फिर वह इंसान दूसरे भाई के पास गया और उससे पूछा तुम अपने भाई से बिल्कुल अलग हो तुम एक सफल बिजनेसमैन हो तुम्हारा एक खुशहाल परिवार है लोग तुम्हारी इज्जत भी करते हैं तुम्हारे ऐसे होने का कारण क्या है उसने जवाब दिया मेरे पिताजी वह ड्रग्स लेते थे फिर शराब पीकर मेरी मां और मुझे मारते थे मुझे बहुत गुस्सा आता था तो मैंने निश्चय किया कि मैं अपने पिता की तरह बिल्कुल भी नहीं बनूंगा मैं बहुत मेहनत की और आज मैं एक सफल इंसान अच्छा पति और अच्छा पीता हूं दोस्तों दोनों भाइयों का बचपन एक जैसे बिता फिर भी दोनों के व्यवहार में जमीन आसमान का अंतर है दोनों के ऐसे व्यवहार का कारण उसके पिताजी है बस फर्क इतना है कि एक ने स्थिति को नकारात्मक नजरिए से देखा और दूसरे ने स्थिति को सकारात्मक नजरिए से देखा दोस्तों जीवन में नजरिया का बहुत ही महत्वपूर्ण स्थान है नजरिया सकारात्मक हो तो इंसान कभी हार नहीं मानता है वह समस्याओं के तूफानों में भी आशा की किरण खोज ही लेता है लेकिन नजरिया नकारात्मक हो तो छोटी से छोटी समस्या भी उसे पहाड़ जैसी प्रतीत होती है इसलिए जीवन के हर परिस्थिति में जितना हो सके उतना सकारात्मक बने रहने का प्रयास करें … धन्यवाद

Leave a comment